B.B.C. हिन्दी समाचार

दो IAS अफसरों ने कोर्ट में की शादी

2018-02-27 |

न्यूज़ डेस्क- महोबा में 2 आईएएस अफसरों ने एडीएम कोर्ट में शादी कर सादगी की मिसाल पेश की है। दोनों आईएएस अधिकारियों ने अपर जिला मजिस्ट्रेट कोर्ट में जाकर न केवल शादी का रजिस्ट्रेशन कराया बल्कि दोनों ने दहेज रहित शादी के बंधन में बंधकर समाज को सन्देश देने का काम भी किया है। हालांकि दोनों अधिकारी एडीएम कार्यालय में देर शाम पहुंचे थे। जिसकी खबर जिलाधिकारी को भी नहीं मिल सकी। अधिकारियों को इस बात का मलाल भी है कि वो इस शादी को यादगार नहीं बना सके। फिलहाल दूल्हा बने आईएएस मृदुल चौधरी और दुल्हन बनी प्रेरणा शर्मा की अनोखी शादी के बारे में सभी की जुबां पर बस चोरी चोरी चुपके-चुपके गीत की धुन ही सुनाई दे रही है। महोबा अपर जिला मजिस्ट्रेट कोर्ट में सोमवार का दिन 26 फरवरी 2018 इतिहास के पन्नों में दर्ज हो गया है। जो असम कैडर की आईएएस प्रेरणा शर्मा दुल्हन के रूप में तो यूपी कैडर के आईएएस मृदुल चौधरी के विवाह का महोबा एडीएम कोर्ट गवाह बना। जहां दोनों ने एक साथ जीने मरने की कसम खाकर विवाह के बंधन में बंध गए। इसके बाद दोनों अधिकारी महोबा जिलाधिकारी के पास पहुंचे। जहां एसपी सहित समाजसेवियों ने नव जोड़ें को बधाई दी।

महोबा जिलाधिकारी सहदेव ने बताया कि यह शादी और भी यादगार बन सकती थी यदि दोनों अधिकारियों ने पहले से विवाह की सूचना दी होती। जिलाधिकारी सहदेव ने दोनों को नवदाम्पत्य जीवन के लिए आशीर्वाद देते हुए मंगल कामना की। उन्होंने बताया कि दोनों अधिकारियों ने शादी का रजिस्ट्रेशन कराकर समाज को सन्देश दिया है। दोनों 2014 बैच के आईएएस अधिकारी है। दोनों ने अकादमी में एक साथ प्रशिक्षण लिया था। यहीं दोनों की मुलाकात हुई और एक-दूसरे को पसंद करने लगे। रिश्ता आगे बढ़ने लगा और यूपी के महोबा में एसडीएम मृदुल चौधरी और असम के गोहाटी सचिवालय में पोस्टिड प्रेरणा शर्मा के बीच ये प्रेम सम्बन्ध विवाह के बंधन में बंध गए। समाज सेवी शरद तिवारी ने बताया कि यह विवाह समाज के लिए बड़ा सन्देश है। जहां दोनों ने पहले विवाह का रजिस्ट्रेशन कराया। जिले में यह ऐतिहासिक पल था।


Load Next News

सम्बंधित खबरें

ताज़ा खबरें

सबसे लोकप्रिय